6.1 C
New York
Monday, February 6, 2023

अंकिता भंडारी हत्याकांड: परिवार ने रोका अंतिम संस्कार, कहा- सार्वजनिक हो पोस्टमार्टम रिपोर्ट; छात्रों का प्रदर्शन जारी

अंकिता भंडारी के पिता ने बेटी के अंतिम संस्कार को तब तक नहीं करने का ऐलान किया है जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं कर दिया जाता है. साथ ही उन्होंने मांग की है कि इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाए. वहीं दूसरी पुलिस ने इस मामले से जुड़े एक और आरोप को गिरफ्तार किया है. अंकिता हत्याकांड से जुड़े चौथे आरोपी को अरुणाचल प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है. इधर इस मामले को लेकर छात्रों का प्रदर्शन जारी है. गढ़वाल यूनिवर्सिटी के छात्र श्रीनगर में बेस अस्पताल के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं. बताते चलें कि इसी अस्पताल में अंकिता का पार्थिव शरीर रखा गया है.Also Read – Ankita Bhandari Murder: उत्तराखंड में बंद का असर, सड़कों पर उतरे लोग, CBI जांच की मांग

#AnkitaBhandari murder case | We won’t conduct her last rites until her post-mortem report is given. We saw in her provisional report that she was beaten up & was thrown in a river. But we’re awaiting the final report: Ajay Singh Bhandari, brother of Ankita Bhandari#Uttarakhand pic.twitter.com/PfFi0FuQs9

— ANI UP/Uttarakhand (@ANINewsUP) September 25, 2022

Also Read – Ankita Bhandari Murder: पुलकित ने दबाया था गला, अंकिता के साथ आखिरी पलों में क्या क्या हुआ था, बड़ा खुलासा

  1. ऋषिकेश एम्स में तीन डॉक्टरों के पैनल ने अंकिता का पोस्टमार्टम किया था. अंकिता का शव देर शाम ऋषिकेश से श्रीनगर पहुंच गया है. यहां भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है. आज अलकनंदा के किनारे अंकिता का अंतिम संस्कार किया जाना था, जिसे फिलहाल रोक दिया गया है.
  2. अंकिता की हत्या को लेकर लोगों का आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा है. ऋषिकेश एम्स के बाहर भी भारी संख्या में मौजूद लोगों ने अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग की. लोगों ने यहां एंबुलेंस को रोकने की कोशिश की. जिसके बाद पुलिस ने बमुश्किल लोगों को पीछे हटाया. वहीं पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद विनोद आर्य ने कहा कि जांच में किसी तरह का कोई व्यवधान न हो इसलिए इस्तीफा दे दिया.
  3. प्रदेशभर में अंकिता के लिए इंसाफ की मांग उठी तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी मामले में सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया. उन्होंने कहा कि इस घटना ने सभी को पीड़ा पहुंचाई है. उत्तराखंड की बेटी को इंसाफ जरूर मिलेगा. अंकिता की हत्या के मुकदमे की जांच (विवेचना) के लिए पुलिस मुख्यालय ने चार सदस्यीय एसआईटी गठित कर दी है. एसआईटी की प्रभारी डीआईजी कानून व्यवस्था पी रेनूका देवी होंगी. जबकि, इसमें एसपी रेखा यादव, एएसपी कोटद्वार शेखर सुयाल और मुकदमे का विवेचक सदस्य बनाए गए हैं.
  4. एसआईटी ने शनिवार को घटनास्थल और जहां से अंकिता का शव मिला वहां जाकर जांच भी शुरू कर दी है. इस मामले में पुलिस एक माह के भीतर चार्जशीट दाखिल करेगी.पौड़ी ब्लॉक के श्रीकोट निवासी एक रिजॉर्ट की रिसेप्सनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद से पूरे प्रदेश में गुस्से का माहौल है. मुख्यमंत्री के निर्देश पर पुलिस और प्रशासन रिजॉर्ट पर भी बुल्डोजर चला चुका है. अंकिता की हत्या के तीनों आरोपी न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजे जा चुके हैं. चारों ओर गम और गुस्से का माहौल देखकर पुलिस भी इस मामले में कोई कोताही नहीं बरतना चाहती है.
  5. एसआईटी को एक माह के भीतर विवेचना पूरी कर चार्जशीट दाखिल करने के निर्देश दिए गए हैं. इन्हीं निदेशरें के क्रम में शनिवार को एसआईटी ने चीला नहर किनारे घटनास्थल, शव मिलने के स्थान चीला पॉवर हाउस और रिजॉर्ट वाले स्थान पर जाकर साक्ष्य जुटाए हैं.
  6. शुरूआती जांच में पता चला है कि रिजॉर्ट के बाहर वाले सारे सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हुए हैं. ऐसे में एसआईटी को वहां से आने जाने की फुटेज नहीं मिल सकी है. इसके लिए एसआईटी इस स्थान के आसपास के सीसीटीवी चेक करेगी. ताकि, पुलिस की विवेचना को बल मिल सके कि अंकिता तीनों आरोपियों के साथ ही वहां से निकली थी.

Also Read – CM पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता भंडारी के घर पहुंचे, परिजनों से कहा- 'दोषियों को कड़ी सजा मिलेगी'

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles