5.1 C
New York
Friday, February 23, 2024

दादा साहेब फाल्के: आशा पारेख को मिलेगा दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड, इस दिन किया जाएगा सम्मानित

Dadasaheb Phalke Award 2022: बॉलीवुड अभिनेत्री आशा पारेख (Asha Parekh) को इसी साल दादा साहब फाल्के अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा. मंगलवार को केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी दी है. हिंदी सिनेमा में अतुलनीय योगदान के लिए उन्हें इस पुरस्कार से नवाजा जाएगा. आशा पारेख अभिनेत्री के साथ-साथ प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी रही हैं. इससे पहले उन्हें भारत सरकार की ओर से पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है. 60-70 के दशक में अपनी खूबसूरती और अभिनय से फैंस के दिलों पर राज करने वालीं आशा पारेख को ये सम्मान बॉलीवुड में उनके अतुलनीय योगदान के लिए दिया जा रहा है.Also Read – बिंदास दिशा पाटनी का बोल्ड अंदाज देखकर क्लीन बोल्ड हुए लोग, Killer एक्सप्रेशन देखकर बहक रहे हैं

बॉलीवुड अभिनेत्री आशा पारेख को इसी साल दादा साहब फाल्के पुरस्कार दिया जाएगा. इस संबंध में मंगलवार को केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी दी है. ट्वीट में लिखा गया है, इस साल दिग्गज एक्ट्रेस आशा पारेख को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड दिया जाएगा. बता दें कि आगामी 2 अक्टूबर को आशा पारेख 80 साल की हो जाएंगी. उन्होंने लगभग 80 बॉलीवुड़ फिल्मों में काम किया है. उन्हें साल 1992 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था. आशा ने महज 10 साल की उम्र में एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी. 1952 में रिलीज हुई फिल्म ‘आसमान’ में उन्होंने पहली बार बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया था. Also Read – Video: सिंगर जावेद अली की आवाज में रिलीज हुआ फिल्म 'बाल नरेन' का गाना 'बेधड़क', इस दिन देख सकेंगे फिल्म

अनुराग ठाकुर ने की घोषणा

Dada Saheb Phalke Award to be conferred to actor Asha Parekh this year: Union Minister Anurag Thakur pic.twitter.com/gP488Ol4zH

— ANI (@ANI) September 27, 2022

Also Read – एक भरोसेमंद किरदार निभाने पर बोलीं फरीदा, किन्नू मां के बारे में जितना जानो उतना कम होगा

इसके बाद बिमल रॉय की फिल्म ‘बाप बेटी’ (1954) में उन्होंने काम किया, लेकिन इसकी असफलता ने उन्हें इस कदर निराश किया कि उन्होंने फिल्मों में काम न करने का फैसला ले लिया. आशा ने 16 साल की उम्र में फिल्मों में वापसी का फैसला लिया और इसके बाद वो प्रोड्यूसर सुबोध मुखर्जी और डायरेक्टर नासिर हुसैन ने अपनी फिल्म ‘दिल देके देखो’ (1959) में साइन कर लिया और ये फिल्म सुपरहिट रही. आशा पारेख ने बॉलीवुड की करीब 78 फिल्मों में काम किया है. साल 1999 में आई फिल्म ‘सर आंखों पर’ वे आखिरी बार नजर आई थीं.

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles