6.1 C
New York
Monday, February 6, 2023

क्या Digvijaya Singh भी लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव? जानें क्या बोले

Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर गहमा-गहमी तेज है. मौजूदा परिदृश्य को देखें तो राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) के बीच टक्कर होती दिख रही है. इन सबके बीच कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) का भी बयान आया है. वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष बनने में उन्हें कोई दिलचस्पी नहीं है. कांग्रेस ने गुरुवार को अधिसूचना जारी कर पार्टी अध्यक्ष के चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी यह साफ कर दिया है कि वह पार्टी अध्यक्ष का चुनाव लड़ेंगे. दो दशकों के अंतराल के बाद पार्टी के शीर्ष पद के लिए चुनाव की स्थिति दिखाई दे रही है.Also Read – BJP का मुकाबला करने के लिए नई कल्पना वाली कांग्रेस की जरूरत, हमारे बीच मतभेद नहीं: शशि थरूर

पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी, मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों कमलनाथ, और दिग्विजय सिंह समेत मुकुल वासनिक एवं पृथ्वीराज चव्हाण के नाम भी संभावित दावेदार के तौर पर चर्चा में थे, लेकिन उनमें से कई ने शीर्ष पद के लिए दौड़ से इनकार किया है. पत्रकारों से बात करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘मैं पहले ही कह चुका हूं और फिर दोहरा रहा हूं कि मुझे पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने में कोई दिलचस्पी नहीं है.’ Also Read – पंजाब में भगवंत मान सरकार ने विश्वास मत जीता, AAP ने बीजेपी के 'ऑपरेशन लोटस' पर साधा निशाना

दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh On Congress President Election) नरसिंहपुर जिले के झोटेश्वर में दिवंगत शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की समाधि पर श्रद्धांजलि देने के लिए पहुंचे थे. स्वामी जी का हाल ही में निधन हो गया था. यह पूछे जाने पर कि गहलोत के पार्टी अध्यक्ष बनने की स्थिति में प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर उनकी जगह कौन लेगा? उन्होंने इस पर किसी प्रकार की टिप्पणी करने से इनकार करते हुए कहा, ‘मैं राजस्थान का जन प्रतिनिधि नहीं हूं.’ Also Read – सूफी धर्म गुरु बोले- राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा में मुसलमानों का जाना हराम, BJP को लेकर कही ये बात

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत के दिल्ली में एक मस्जिद और मदरसे का दौरा करने के सवाल पर सिंह ने कहा कि यह कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का परिणाम है, जिसने केवल दो सप्ताह ही पूरे किए हैं. सिंह ने कहा, ‘भारत जोड़ो यात्रा से प्रभावित होने के लिए मैं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के प्रति आभार व्यक्त करता हूं.’ उन्होंने कहा कि इस तरह की भावना संघ के निचले तबके तक पहुंचनी चाहिए. सिंह ने कहा कि उन्हें (आरएसएस कैडर) धार्मिक आधार पर समुदायों के बीच मतभेद और दुश्मनी की भावना पैदा करना बंद कर देना चाहिए. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा को लेकर लोगों की प्रतिक्रिया पार्टी की उम्मीदों से कहीं ज्यादा है.

भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद द्वारा इस यात्रा को ‘गांधी परिवार बचाओ यात्रा’ करार दिए जाने पर सिंह ने कहा, ‘परिवार की उनकी (प्रसाद की) परिभाषा संघ परिवार तक सीमित है, जबकि कांग्रेस की परिवार की परिभाषा पूरी दुनिया है. हम ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ और भारतीय सनातनी परंपरा में विश्वास करते हैं.’

(इनपुट: भाषा)

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles