1.4 C
New York
Thursday, February 22, 2024

ICC Rule for Bat Size: बड़े साइज का बल्‍ला इस्‍तेमाल करता पकड़ा गया कंगारू बल्‍लेबाज, फिर…

ICC Rule for Bat Size: इंग्‍लैंड के काउंटी क्रिकेट में अनोखा मामला सामने आया है जब एक टीम को महज इसलिए पैनल्टी भुगतनी पड़ी क्‍योंकि उसकी टीम के खिलाड़ी ने तय नियमों से बड़े साइज के बल्‍ले का इस्‍तेमाल बल्‍लेबाजी के लिए किया था। डरहम काउंटी क्‍लब पर इस गलती के लिए 10 प्‍वाइंट का जुर्माना लगाया गया है। इस महीने में डरहम का मुकाबला डर्बिशायर काउंटी क्‍लब के खिलाफ हुआ था। ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज निक मैडिन्सन (Nic Maddinson’s) डरहम टीम का हिस्‍सा थे।Also Read – पुजारा ने लगाई शतकों की झड़ी, पिता बोले- टेस्‍ट क्रिकेट कम होने से प्रदर्शन पर पड़ा असर

मैच के दौरान अंपायर को शक हुआ कि निक मैडिन्‍सन जिस बल्‍ले का इस्‍तेमाल कर रहे हैं वो आईसीसी द्वारा तय किए गए नियम के अंतर्गत नहीं आता है। उन्‍होंने तुरंत ही बल्‍ले की जांच करवाई, जिसमें उनका शक सही साबित हुआ। मैच जारी रहा और बाएं हाथ के बल्‍लेबाज निक को बल्‍ला बदलकर खेल जारी रखने के लिए कहा गया। Also Read – चेतेश्‍वर पुजारा बने तारनहार, फॉलोऑन पर खेल रहे ससेक्‍स को शतक जड़ बचाया

मैच के बाद इंग्‍लैंड क्रिकेट डिसिप्लिन कमीशन ने डरहम टीम पर इसके लिए कार्रवाई करने का निर्णय लिया। आधिकारिक बयान में कहा गया, “निक मैडिन्‍सन ने ईसीबी के नियम 3.2 और 3.3 का उल्‍लंघन करने की बात कबूल कर ली है। इसके बाद डरहम काउंटी टीम पर 10 प्‍वाइंट का जुर्माना लगाया गया।” Also Read – 2022 सीजन में ससेक्स के लिए खेलने के लिए तैयार पाकिस्तान के मोहम्मद रिजवान

डिसिप्लिन कमीशन का कहना है कि यह स्‍पष्‍ट हो गया है कि डरहम काउंटी क्रिकेट क्‍लब और निक मैडिन्‍सन ने यह गलती अनजाने में की है। उनका नियमों का उल्‍लंघन करने का कोई इरादा नहीं था। इस मामले को फिर भी सख्‍ती से निपटा गया और यह जुर्माना लगाया गया।

बल्‍ले को साइज लेकर आईसीसी का नियम? (ICC Rule for Bat Size)

आईसीसी के नियमों के अनुसार क्रिकेट बैट की लंबाई हैडल से लेकर निचले भाग तक 96.52 सेंटीमीटर से ज्‍यादा नहीं हो सकती। बल्‍ले की डायमेंशन चौड़ाई में 10.8 सेंटीमीटर, गहराई में 6.7 सेंटीमीटर और उसके एज 4 सेंटीमीटर से ज्‍यादा नहीं होने चाहिए।

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles