6.1 C
New York
Monday, February 6, 2023

ललन सिंह ने सुशील मोदी से पूछे 13 सवाल, कहा- ‘आप दया के पात्र हैं, हमारे नेता के करीब रहे हैं’

Bihar Politics: केंद्रीय मंत्री अमित शाह के बिहार दौरे के बाद से बीजेपी और जेडीयू के बीच तल्खी और बढ़ गई है. दोनों पार्टियों की तरफ से शब्दों के बाण एक-दूसरे पर छोड़े जा रहे हैं. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और सीनियर बीजेपी नेता सुशील मोदी पर पलटवार करते हुए जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह ने ट्वीट कर 13 सवाल पूछे हैं. ललन सिंह ने उनके सांसद बनने की कहानी पूछी है. पूछा है कि डिप्टी सीएम बनने के लिए किस तरह लाबिंग कर रहे थे. इससे पहले सुशील मोदी ने कहा था कि ललन सिंह बीजेपी की कृपा से सांसद बने हैं. उन्होंने उनके तीन बार सांसद बनने का श्रेय भी भाजपा को दिया था. इसके बाद अब ललन सिंह ने पलटवार किया है.Also Read – बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने दिया इस्तीफा, BJP ने कसा तंज; कहा- ये तो होना ही था

ललन सिंह ने कहा कि सुशील मोदी आप दया के पात्र हैं. वैसे भी आप हमारे नेता के बहुत करीब रहें हैं. संभव है कि आज भी हैं. इसलिए आप हमेशा से तिरस्कृत रहे हैं. खैर आप पर कुछ नहीं बोलना है हमें.आपको कुछ मिल जाए हम सबकी सहानुभूति आपके साथ है. जेडीयू अध्यक्ष ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह जुमलेबाजी कर रहे हैं.देश जुमलेबाजी से नहीं हकीकत से चलेगा.2024 में देश भाजपामुक्त होगा. Also Read – 'ऐसा लगता है जगदानंद सिंह व शिवानंद तिवारी बीजेपी से गाइड हो रहे हैं', पप्पू यादव का बड़ा बयान

ललन सिंह ने सुशील मोदी से पूछे ये सवाल

  1.  गृहमंत्री अमित शह ने 2020 के चुनाव में साजिश किया था या नहीं ?
  2. आईआरसीटीसी आरोप पत्र 2017 में दायर हुआ था कि नहीं ?, यदि हां तो 2022 तक क्या हुआ उसका ? कुछ नहीं हुआ…..तो क्या यह साजिश नहीं थी ?
  3.  पूर्णिया हवाई अड्डा बन कर तैयार हुआ है या नहीं ? देश के जुमलेबाज गृहमंत्री तो बोल रहे हैं कि बनकर तैयार हो गया है.
  4.  डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम कृषि महाविद्यालय, किशनगंज बिहार सरकार के खजाने से बना जिसका श्रेय गृह मंत्री अमित शाह लेना चाहते हैं, क्यों ?
  5.  सुशील मोदी आप भागलपुर से एक बार सांसद रहें, किसकी कृपा से जीते थे ? हम बताएं या फिर आप खुद बताएंगे ?
  6. जरा यह भी बताइए कि जेडीयू से गठबंधन के पहले भाजपा कितनी सीट पर जीतती थीं और गठबंधन के बाद कितनी?
  7.  मेरी व्याकुलता मंत्री बनने में नहीं बल्कि पार्टी को बचाने मे थीं जिसके खिलाफ आप लोग षडयंत्र कर रहे थे. मंत्री बनना जिनके जीवन की अंतिम इच्छा थीं उनको आप लोगों ने अपने साथ मिलाकर जेडीयू को खत्म करने का षडयंत्र किया. क्या यह सत्य नहीं है ?
  8.  2005 में जब सरकार बन रही थी, उस समय उपमुख्यमंत्री बनने कि आपकी जो व्याकुलता थी, हम बताएं या फिर आप बताएंगे ?
  9.  आप चिंता मत कीजिए, 2024 का चुनाव #भाजपामुक्त_भारत के नारे से भी जीत कर दिखाएंगे.
  10.  अगर जानकारी नहीं है तो आरएसएस के अनिल ठाकुर जी से पूछ लीजिए कि 2020 का चुनाव आपके शिष्य कैसे जीते ?
  11.  हम स्वागत करेंगे यदि आप हमसे 2024 क़ा चुनाव #भाजपामुक्त_भारत के नारे पर लड़ लें.
  12. क्या मैं आपको यह भी बताऊं कि 2004 और 2019 के चुनाव में भाजपा के कार्यकर्ता आपके इशारे पर क्या कर रहे थे ? उसके बावजूद भी मैं जीता. साक्ष्य है मेरे पास बता दूंगा.
  13.  क्या आपके अंदर इतनी साहस है कि कह सकें कि श्रद्धेय अटल जी और आडवाणी जी वाला एनडीए अब नहीं रहा.

वही, जेडीयू अध्यक्ष पर भड़के सुशील मोदी ने कहा कि ललन सिंह बीजेपी के एक जिला अध्यक्ष के बराबर हं. उसकी क्या हैसियत है. पूर्णिया एयरपोर्ट और किशनगंज विश्वविद्यालय के सवाल पर सुशील मोदी ने कहा कि पहले ललन सिंह उनके सवालों का जवाब दे दें फिर मैं इन दोनों मुद्दों पर भी जवाब दूंगा. Also Read – प्रशांत किशोर आज बिहार में 3500 किमी की पदयात्रा पश्चिम चंपारण जिले से शुरू करेंगे

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles