6.1 C
New York
Monday, February 6, 2023

शिवाजी पार्क में उद्धव ठाकरे ही करेंगे दशहरा रैली

Maharashtra News: दशहरा रैली को लेकर हाल के दिनों में महाराष्ट्र की सियासत गरमाई हुई है. हालांकि अब साफ हो गया है कि हमेशा की तरह शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की शिवाजी पार्क (Shivaji Park) में दशहरा रैली (Dussehra Rally) करेंगे. बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने उद्धव ठाकरे के पक्ष में फैसला सुनाया और कहा कि शिवसेना को तैयारियों के लिए 2-6 अक्टूबर तक यह मैदान दिया जाएगा. बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) के इस फैसले से एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) गुट को बड़ा झटका लगा है.Also Read – मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को धमकी देने के मामले का खुलासा, मात्र 5 रुपये की नाराजगी के चलते दे डाली झूठी सूचना

Maharashtra | Bombay High Court hears petitions of Shiv Sena factions seeking permission for Dussehra rally at Shivaji Park.

— ANI (@ANI) September 23, 2022

Also Read – मुख्यमंत्री शिंदे की जान को खतरा, खुफिया सूचना के बाद सुरक्षा बढ़ाई गई

बॉम्बे हाईकोर्ट में दी गई याचिका में शिवसेना ने कहा कि पार्टी 1966 से हर साल शिवाजी पार्क में दशहरा रैली का आयोजन कर रही है और बीएमसी ने हमेशा इसकी अनुमति दी है. कोविड-19 महामारी के कारण सिर्फ 2020 और 2021 में रैली आयोजित नहीं की जा सकी थी. याचिका के अनुसार, 2016 में राज्य सरकार ने शिवाजी पार्क में केवल खेल गतिविधियों की ही अनुमति दी थी. उस समय राज्य सरकार ने गैर-खेल गतिविधियों के लिए वर्ष में कुछ दिन निर्धारित किए थे और उनमें दशहरा रैली भी शामिल थी. Also Read – मुंबई में चर्चित हो रहे हैं कमलाबाई, पेंगुइन सेना, केकड़ा जैसे शब्द, जानें कौन किसके लिए कर रहा है इस्तेमाल

इस साल जून में शिवसेना में एकनाथ शिंदे गुट के विद्रोह के बाद ठाकरे नीत महा विकास आघाड़ी सरकार गिर गई. महा विकास आघाड़ी गठबंधन में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) और कांग्रेस शामिल थीं. बाद में एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली.

ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले प्रतिद्वंद्वी गुट दोनों ने शिवाजी पार्क में अपनी-अपनी दशहरा रैलियों को आयोजित करने की अनुमति मांगी है. मालूम हो कि BMC ने गुरुवार को दोनों धड़ों को रैली की अनुमति नहीं दी. दोनों गुटों ने विकल्प के तौर पर मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स (BKC) के एमएमआरडीए मैदान में रैली करने की अनुमति के लिए भी आवेदन किया था. पिछले हफ्ते शिंदे गुट को बीकेसी में रैली के आयोजन को मंजूरी मिली थी.

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles