8.1 C
New York
Tuesday, January 31, 2023

Reliance New Energy : रिलायंस न्यू एनर्जी ने 1.2 करोड़ डॉलर में खरीदी अमेरिका की कंपनी ‘कैलक्स’ में 20% हिस्सेदारी

Reliance New Energy : रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी रिलायंस न्यू एनर्जी लिमिटेड (RNEL) ने अमेरिका के कैलिफोर्निया में स्थित कैलक्स कॉर्पोरेशन में निवेश की घोषणा की है. अगली पीढ़ी की सौर प्रौद्योगिकी का विकास करने वाली कैलक्स में 20 फीसदी हिस्सेदारी के लिए रिलायंस न्यू एनर्जी 1.2 करोड़ डॉलर का निवेश करेगी. इस निवेश से कंपनी की नवीन ऊर्जा विनिर्माण क्षमता को मजबूती मिलने की उम्मीद है.Also Read – Reliance Industries : रिलायंस ने अमेरिकी कंपनी सेंसहॉक में 3.2 करोड़ डॉलर में 79.4 फीसदी खरीदी हिस्सेदारी

आरएनईएल ने एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियों ने एक रणनीतिक साझेदारी समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. कैलक्स, पेरोव्स्काइट-आधारित सौर प्रौद्योगिकी के लिए जानी जाती है. कंपनी उच्च दक्षता वाले सौर मॉड्यूल बनाती है जो 20 फीसदी अधिक ऊर्जा का उत्पादन कर सकते हैं. 25 साल तक बिजली पैदा कर सकने वाली, इसकी सौर परियोजना की लागत भी काफी कम होती है. Also Read – रिलायंस चौथे निवेश चक्र में 50 अरब डॉलर खर्च करेगी, आमदनी हो सकती है दोगुनी : रिपोर्ट

रिलायंस गुजरात के जामनगर में एकीकृत फोटोवोल्टिक गीगा फैक्ट्री स्थापित कर रही है. इस साझेदारी से रिलायंस अपने इस संयंत्र में ‘अधिक शक्तिशाली’ और कम लागत वाले सौर मॉड्यूल्स का उत्पादन कर सकेगी. Also Read – फिर से बाजार में दस्तक देने को तैयार है कैंपा कोला, RIL ने किया अधिग्रहण; दिवाली के आसपास लॉन्च करने की योजना

इस निवेश के बारे में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश डी अंबानी ने कहा, “कैलक्स में निवेश ‘विश्व स्तरीय हरित ऊर्जा विनिर्माण’ परिवेश बनाने की हमारी रणनीति के अनुरूप है. हमारा मानना है कि कैलक्स की पेरोव्स्काइट-आधारित सौर प्रौद्योगिकी और क्रिस्टलीय सौर मॉड्यूल, हमें अगले चरण तक पहुंचने में मदद करेंगे. हम इसके उत्पाद विकास और इसकी प्रौद्योगिकी के व्यावसायीकरण में तेजी लाने के लिए कैलक्स टीम के साथ काम करेंगे.’’

कैलक्स कॉर्पोरेशन के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) स्कॉट ग्रेबील ने रिलायंस के साथ साझेदारी पर खुशी जताते हुए कहा कि “रिलायंस के साथ साझेदारी में हम क्रिस्टलीय सौर मॉड्यूल को अधिक कुशल और किफायती बनाने पर और अपनी विनिर्माण क्षमताओं के विस्तार पर ध्यान देंगे.’’

(Input-Bhasha)

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles