3.2 C
New York
Wednesday, February 1, 2023

Russia Ukraine war: युद्ध से डरी इस महिला ने बनाया BUNKER, 25 साल गुजारने के लिए भरा राशन

Russia Ukraine war: रूस और युक्रेन के बीच युद्ध जारी है. युद्ध का असर है कि रूस से लोग विदेश भागने लगे हैं. पिछले दिनों वहां के कई शहरों में युद्ध-विरोधी प्रदर्शन भी हुए. जिनमें प्रदर्शनकारियों ने साफ कहा कि वो राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए जान नहीं देने वाले. उनकी आने वाली पीढ़ी को युद्ध नहीं, जीवन चाहिए. 7 महीने से पूरी दुनिया रूस और यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine war) को देख रही है. न ही यूक्रेन पीछे हटने को तैयार है और न ही रूस युद्ध खत्म करने को. ऊपर से रूस में अब नागरिक ही वहां के राष्ट्रपति की युद्ध नीतियों का विरोध करने लगे हैं. पुतिन के देश में आंशिक लामबंदी की घोषणा के बाद न्यूक्लियर वार (Nuclear War) की आशंका भी गर्मा गई है. ऐसे में एक महिला ने खुद को सुरक्षित रखने के लिए बंकर ( BUNKER) तैयार कर लिया है, जिसमें हथियारों के साथ ही खाना भी भर दिया है.Also Read – रूसी सेना ने राष्ट्रपति जेलेंस्की के गृहनगर में हमले तेज किए, यूक्रेन कर रहा जवाबी कार्रवाई

जिस महिला ने बनाया BUNKER वो न ही रूस से है और न ही यूक्रेन से

रूस और युक्रेन के बीच परमाणु युद्ध के डर से जिस महिला ने बंकर बनाया है, उसका इन दोनों ही देशों से कोई नाता नहीं है. वो महिला अमेरिका की है और उसने परमाणु हथियार के डर से अपनी सुरक्षा के लिए बंकर तैयार कर लिया है. यह बंकर भूमिगत है. जिसमें परमाणु युद्ध की स्थिति से बचने के लिए सभी जरूरी चीजें हैं. इस महिला का नाम रोवन मैकेंजी (Rowan MacKenzie built underground nuclear bunker) है. Also Read – पुतिन ने यूक्रेन के चार इलाकों का विलय किया, समझें- कैसे रूस की पकड़ हो सकती है कमजोर

Also Read – Russia-Ukraine-Conflict: अमेरिका ने यूक्रेन को दिया ‘हवाई सुरक्षा सिस्टम’ अब क्या होगा रूस का अगला कदम | Watch Video

रेडिएशन प्रूफ है महिला का यह बंकर, 25 साल के लिए भरा खाना

इस महिला रोवन मैकेंजी (Rowan MacKenzie Bunker) का यह बंकर रेडिएशन प्रूफ है. इस बनाने के लिए उसने 13 लाख से ज्यादा रुपये खर्च किये हैं. बंकर के भीतर की वीडियोज भी उसने दुनिया को दिखाई है, ताकि उसके बंकर के बारे में सबको पता चल सके. इस बंकर में रोवन मैकेंजी ने इतना खाना भर दिया है कि वो यहां 25 साल गुजार सकती है. इसके अलावा हथियार अलग से भरे हुए हैं. ऐसा उसने इसलिए किया है ताकि कायनात का दिन करीब आए तो वो अपने बंकर में जाकर बैठ सके. वहां भी अगर उसपर हमला हुआ तो हथियार उठा ले. उसका मानना है कि परमाणु युद्ध की स्थिति में भूमिगत बंकर ही सर्वोत्तम बचाव उपाय है.

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles