10.4 C
New York
Wednesday, February 8, 2023

Shah rukh Khan: सुबह 4 बजे अब्बास-मस्तान के घर पहुंच गए थे शाहरुख खान, पत्नी गौरी के पास जाने से पहले…

Shah Rukh khan: बॉलीवुड के ‘किंग खान’ यानी शाहरुख खान को कौन नहीं जानता. दुनियाभर में एक्टर के चाहने वाले मौजूद हैं, जल्द वो अपनी फिल्मों ‘जवान’ और ‘पठान’ से बड़े पर्दे पर वापसी करने वाले हैं. शाहरुख खान की सफलता के पीछे उनकी कड़ी मेहनत छिपी हुई है, जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. बॉलीवुड में अपना पैर जमाने से पहले पहले उन्होंने कई टीवी शो में काम किया. शाहरुख ने 1992 में आई फिल्म ‘दीवाना’ से अपने करियर की शुरुआत की और एक साल बाद उन्होंने ‘बाजीगर’ (Baazigar) में अपनी एक्टिंग से सबको हैरान कर दिया.Also Read – बिंदास दिशा पाटनी का बोल्ड अंदाज देखकर क्लीन बोल्ड हुए लोग, Killer एक्सप्रेशन देखकर बहक रहे हैं

‘बाजीगर’ से शाहरुख ने कमाया नेम-फेम

हालांकि ‘बाजीगर’ के लिए शाहरुख खान को किसी अवॉर्ड के मिलने की उम्मीद नहीं थी, लेकिन फिल्म ने कई कैटेगरी में पुरस्कार अपने नाम किए. हाल ही में निर्देशक जोड़ी अब्बास-मस्तान ने उन दिनों को याद करते हुए बताया कि कैसे अवॉर्ड मिलने के बाद शाहरुख खान सुबह 4:30 बजे उनके दरवाजे पर खड़े हो गए थे. ‘बाजीगर’ शाहरुख के साथ शिल्पा शेट्टी, काजोल, राखी, दलीप ताहिल, सिद्धार्थ रे और जॉनी लीवर ने स्क्रीन शेयर किया था. अब्बास-मस्तान द्वारा निर्देशित फिल्म के लिए शाहरुख को बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर पुरस्कार मिला था. Also Read – Video: सिंगर जावेद अली की आवाज में रिलीज हुआ फिल्म 'बाल नरेन' का गाना 'बेधड़क', इस दिन देख सकेंगे फिल्म

सुबह 4 बजे अब्बास-मस्तान के घर पहुंच गए थे शाहरुख खान

अब्बास-मस्तान ने कहा, ‘हम फंक्शन में गए थे, लेकिन पार्टियों के बाद हम वहां रुके नहीं. हमने देखा कि फिल्म को बहुत सारे पुरस्कार मिले, जैसे कि लगभग 8 या 9 अवॉर्ड्स. शिल्पा शेट्टी को बेस्ट डेब्यू के लिए, अनु मलिक को म्यूजिक समेत कई अवॉर्ड मिले थे. हम घर लौट आए और सोने चले गए. तो करीब 4 या 4.30 बजे किसी ने दरवाजा खटखटाया. रमजान का पहला या दूसरा दिन था, इसलिए हमने एक दस्तक सुनी और मेरी पत्नी ने दरवाजा खोला. पत्नी ने मुझे जगाते हुए कहा कि शाहरुख खान आए हैं. Also Read – एक भरोसेमंद किरदार निभाने पर बोलीं फरीदा, किन्नू मां के बारे में जितना जानो उतना कम होगा

शाहरुख खान ने कही ये बात

हालांकि गेट पर सिर्फ शाहरुख खान नहीं थे, उनके पीछे अनु मलिक, रतन जैन और कई अन्य लोग थे. शाहरुख ने आकर हमें गले लगाया और कहा कि आप पार्टी के बाद वहां नहीं थे, इसलिए मैं आपका आशीर्वाद लेने से पहले इस ट्रॉफी के साथ घर नहीं जा सकता था. मैं उन सभी से मिला और उन्हें गाड़ी तक छोड़ने गया. शाहरुख ने फिर से गले लगाया और कहा ‘मैं इस पल को कभी नहीं भूलूंगा’ और यह भी कहा, ‘अब आपका आशीर्वाद लेने के बाद, मैं गौरी के पास जाऊंगा.’

Related Articles

Stay Connected

1,520FansLike
4,561FollowersFollow
0FollowersFollow

Latest Articles